Muni Shri Ajit Sagar Ji Maharaj मुनि श्री अजित सागर जी महाराज

Profile

Name Muni Shri Ajit Sagar Ji Maharaj मुनि श्री अजित सागर जी महाराज
Gender Male
Date of Birth 17/Apr/1968
Name before Diksha Vinod Kumar Jain
Father's Name श्री कोमलचंद जैन
Mother's Name श्रीमति ताराबाई जैन
Place of Birth सिमरिया—गढ़ाकोटा (सागर) म. प्र.
Education हाईस्कूल
Brhamcharya Vrat (Date, place and name of guru)
27-Dec-1986 / ललितपुर / परम पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज Acharya Shri 108 Vidya Sagar Ji Maharaj
Kshullak Diksha (Date, place and name of guru)
20-Apr-1996 / सिद्धक्षेत्र तारंगाजी / परम पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज Acharya Shri 108 Vidya Sagar Ji Maharaj
Elak Diksha (Date, place and name of guru)
05-Jan-1998 / सिद्धक्षेत्र नेमावर, (देवास) म. प्र. / परम पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज Acharya Shri 108 Vidya Sagar Ji Maharaj
Muni Diksha (Date, place and name of guru)
22-Apr-1999 / नेमावरजी (देवास) म. प्र. / परम पूज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज Acharya Shri 108 Vidya Sagar Ji Maharaj
Books / Granths १. भीतर कहीं (भारतीय ज्ञानपीठ से प्रकाशित), २. महाश्रमण, ३. विद्याशांति, ४. परमेष्ठी स्तव, ५. तीर्थंकर स्तव, ६. ज्ञानोदयसार,७. वीरदेशना, ८. विद्यावाणी, ९. पर्यूष वाणी, १०. अिंहसासूत्र, ११. मानस मोती भाग—१, १२. मानस मोती भाग—२, १३. साधनापक्ष का पाक्षेय,१४. सल्लेखना समत्व की साधना पद्यानुवाद, १५. कल्याण मंदिर स्तोत्र विधान, १६. एकीभाव स्तोत्र विधान, १७. विषायहार स्तोत्र, परिचय संग्रह १८. आचार्य श्री विद्यासागर की चेतन कृति
Chaturmas (year, place) 2018-Seoni

Gallery

Other Details

About Muni Shri Ajit Sagar Ji Maharaj मुनि श्री अजित सागर जी महाराज


More Details

मुनिश्री सान्निध्य में अब तक—१२ पंचकल्याणक गज रथ महोत्सव क्रमश ७ लघुपंचकल्याणक का २६ नगरों में वेदी प्रतिष्ठायें। ६ नगर में कल्पद्रुम मंडल विधान, ७ सिद्धचक्र विधान, ५ जगह १६ त्रसीय शांति विधान/ नंदीश्वर विधान, चौबीसी विधान हुये, १२ नगरों में वेदी शिलान्यास, २५ नगरों के मंदिरों को जीर्णोद्धार हुआ है कुछ का हो रहा है करीब ३०—३५ नगरों में जैनपाठशालायें संचालित कराई। और भी अनेक कार्य

Latest News